Home > Featured News > आपदा प्रबन्धन की समीक्षा बैठक आयोजित

आपदा प्रबन्धन की समीक्षा बैठक आयोजित

ghjkl;सोलन 05.11.2015: उपायुक्त सोलन मदन चैहान द्वारा आज यहां 26 तथा 27 नवम्बर को आयोजित की
जाने वाली माॅक ड्रिल एवं टेबल टाॅक कांफ्रेस के मध्यनजर जि़ला के विभिन्न
अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक आयोजित की गई। उन्होंने कहा कि 26 नवम्बर
को उपायुक्त कार्यालय में सभी विभाग अपनी प्रस्तुतियां देंगे तथा 27 नवम्बर को
सोलन के ऐतिहासिक ठोडो मैदान में माॅक ड्रिल का आयोजन किया जाएगा।
उन्होंने इस संबंध में गठित समितियों को हर संभव आपदा से तैयार रहने के
निर्देश दिए गए।

उपायुक्त ने कहा कि गत दिनों देश में आई अनेकों प्राकृतिक आपदाओं को
देखते हुए केन्द्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा आपदाओं के समय सतर्कता बरतने एवं
नुक्सान को कम करने के दृष्टिगत आपदा प्रबन्धन के कार्यक्रम को प्रभावी रूप से
लागू करने के लिए पूर्वाभ्यास करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जि़ला में ऐसी
स्थिति से निपटने के लिए पूर्व में समितियों का गठन किया गया था। उन्होंने
कहा कि जि़ला में लोक निर्माण विभाग, राष्ट्रीय उच्च मार्ग मण्डल, सिंचाई विभाग
तथा बिजली बोर्ड के अधिशाषी अभियन्ताओं के साथ-साथ नगर परिषद के
कार्यकारी अधिकारी को सम्मिलित कर समिति गठित की गई है। उन्होंने कहा कि
जि़ला योजना समिति में अतिरिक्त जि़ला दण्डाधिकारी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, वन
मण्डलाधिकारी, नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी को शामिल किया गया है।
उन्होंने कहा कि संचालन एवं क्रियान्वयन समिति में खण्ड विकास अधिकारी सोलन,
जि़ला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक, नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी, उच्च तथा
प्रारम्भिक शिक्षा निदेशकों को शामिल किया गया है।

मदन चैहान ने कहा कि अतिरिक्त जि़ला दण्डाधिकारी तथा सहायक लोक सम्पर्क
अधिकारी सोलन को जन सूचना अधिकारी नियुक्त किया गया है जबकि उप पुलिस
अधीक्षक मुख्यालय, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, चिकित्सा अधीक्षक एवं आदेशक गृह
रक्षा, अग्निशमन अधिकारी को सुरक्षा अधिकारी नियुक्त किया गया है। इसके
अतिरिक्त जि़ला राजस्व अधिकारी तथा जि़ला मुख्यालय में तैनात पटवारी को सम्पर्क
अधिकारी नियुक्त किया गया है। उन्होंने कहा कि प्राकृतिक आपदा में होने वाले
व्यय के लिए गठित समिति में उपमण्डलाधिकारी, तहसीलदार, आफिस कानूनगो को
शामिल किया गया है।

उपायुक्त ने सभी उपमण्डलाधिकारियों को निर्देश दिए कि वह उपमण्डल स्तर पर भी
ऐसी कमेटियों का गठन करें। उन्होंने इन कमेटियों में औद्योगिक क्षेत्रों में
उद्योगपतियों को विशेष तौर पर शामिल करने के लिए कहा। उन्होंने क्रियाशील
विभागों से अपने-अपने विभाग से संबंधित मशीनरी इत्यादि की उपलब्धता बारे
वस्तुस्थिति की पूर्ण जानकारी देने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि किसी भी
प्रकार की प्राकृतिक आपदा से प्रभावी रूप से निपटने एवं नुक्सान को कम करने के
लिए केवल जि़ला एवं उपमण्डल ही नहीं अपितु सभी स्तरों पर टीमों का गठन होना
चाहिए जो एकजुटता और तत्परता के साथ आपदा से बचाव के लिए तुरन्त कार्यशील
हो सके।

मदन चैहान ने कहा कि प्राकृतिक आपदा के समय सभी विभागों की प्राथमिकताएं
तय होनी चाहिए तथा परिस्थितियों के अनुरूप एकदम उनको आपदा प्रबन्धन से
जुड़े कार्यों में क्रियाशील होने के लिए तैयार रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि
जि़ला के बद्दी में भी 22 दिसम्बर को एक अन्य माॅक ड्रिल आयोजित की जाएगी।

बैठक में अतिरिक्त जि़ला दण्डाधिकारी संदीप नेगी, बीबीएनडी के मुख्य कार्यकारी
अधिकारी ललित जैन, उपमण्डलाधिकारी सोलन एकता कापटा, उपमण्डलाधिकारी अर्की
एल.आर. वर्मा, उपमण्डलाधिकारी नालागढ़ हरिकेश मीणा, सहायक आयुक्त छवि नान्टा,
उप पुलिस अधीक्षक नालागढ़ खजाना राम, जि़ला राजस्व अधिकारी नरेन्द्र चैहान
सहित अन्य विभागों के अधिकारियों ने भाग लिया।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Current month ye@r day *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)
Directory powered by Business Directory Plugin