October 24, 2017

अर्की में अग्निशमन केन्द्र का मामला मंत्रिमण्डल मे रखेंगे: डाॅ. शांडिल

asसोलन  17.09.2015: सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डाॅ. कर्नल धनीराम शांडिल ने कहा कि अर्की

में अग्निशमन केन्द्र खोलने का मामला मंत्रिमण्डल में ले जाया जाएगा ताकि यहां के
लोगों को शीघ्र बेहतर अग्निशमन सेवाएं उपलब्ध हो सकंे। डाॅ. शांडिल आज
अर्की में दो दिवसीय जि़ला स्तरीय सायरोत्सव के शुभारम्भ के अवसर पर उपस्थित
लोगों को सम्बोधित कर रहे थे।

डाॅ. शांडिल ने इससे पूर्व प्राचीन काली माता मंदिर में पूजा-अर्चना के साथ
सायरोत्सव का शुभारम्भ किया। उन्होंने इस अवसर पर हिमाचल विशेेषकर जि़ला
सोलन के वासियों की सुख-समृद्धि और खुशहाली का कामना की।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने इस अवसर पर कहा कि सायरोत्सव समूचे
प्रदेश में मनाया जाता है और हिमाचलवासियों के लिए सायर का विशेष महत्व
है। उन्होंने कहा कि सायर हमारी संस्कृति का अभिन्न अंग है। उन्होंने स्थानीय
जनता का आह्वान किया कि वे अपने प्राचीन मेलों और उत्सवों के मूल स्वरूप को
बनाए रखें ताकि युवा पीढ़ी को अपनी संस्कृति की जानकारी मिलती रहे। उन्होंने
कहा कि सांस्कृतिक विरासत का संरक्षण पर्यटन की दृष्टि से भी महत्वपूर्ण है
क्योंकि हर वर्ष बड़ी संख्या में देश-विदेश के सैलानी हिमाचल की संस्कृति से
रू-ब-रू होने यहां आते हैं। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के मेले जहां व्यापारिक
गतिविधियों को बढावा देते हैं वहीं इनसे युवा प्रतिभाओं को सशक्त मंच
भी प्रदान होता है। उन्होंने अभिभावकों एवं अध्यापकों का आह्वान किया कि
वे युवाओं को संस्कारी बनाएं और उन्हें नशे की प्रवृति से दूर रखने में
सहयोग दें।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार समाज के सभी वर्गों के विकास विशेषकर महिला
सशक्तिकरण को सर्वोच्च प्राथमिकता प्रदान कर रही है। हिमाचल पुलिस में आरक्षी
स्तर तक महिलाओं के लिए 30 प्रतिशत पद आरक्षित किए गए हैं ताकि महिलाएं बिना
किसी डर के अपनी बात पुलिस के समक्ष रख सकें। उन्होंने कहा कि प्रदेश में
चरणबद्ध तरीके से महिला पुलिस थाने स्थापित किए जा रहे हैं। शिमला, मण्डी तथा
धर्मशाला में ये थाने स्थापित किए जा चुके हैं और अन्य क्षेत्रों में भी
इनकी स्थापना की जाएगी। उन्होंने कहा कि महिला सशक्तिकरण को बढावा देने के
उद्देश्य से प्रदेश सरकार जेंडर आधारित बजटिंग अपना रही है। इस वर्ष प्रदेश
में महिला एवं बाल विकास कल्याण पर 371 करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि अर्की क्षेत्र के विकास को भी प्रदेश सरकार सर्वोच्च प्राथमिकता
प्रदान कर रही है। उन्होंने क्षेत्रवासियों को आश्वस्त किया कि उनकी विकास
संबंधी सभी आवश्यकताएं पूरी की जाएंगी और दिशा में धन की कोई कमी
आड़े नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि अर्की विधानसभा क्षेत्र में विभिन्न
स्कूलों को स्तरोन्नत करने का मामला मुख्यमंत्री से उठाया जाएगा।

डाॅ. शांडिल ने इस अवसर पर विभिन्न खेलकूद प्रतियोगिताओं का और प्रदर्शित
प्रदशर्नियों का भी शुभारम्भ किया। उन्होंने प्रदशर्नियों में रखे गए
उत्पादों में गहन रूचि दिखाई। उन्होंने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले
बच्चों अपनी ऐच्छिक निधि से 11 हजार रुपये प्रदान करने की घोषणा की तथा
आंगनवाडी केन्द्र के नन्हे-मुन्ने बच्चों को कार्यक्रम के लिए अपनी ओर से एक हजार
रूपये प्रदान किए।

इस अवसर पर सायरोत्सव मेला समिति तथा नगर पंचायत अर्की ने मुख्यातिथि को
सम्मानित भी किया।

नगर पंचायत अर्की की अध्यक्ष सीमा शर्मा ने मुख्यातिथि का स्वगात किया और
सायरोत्सव की विस्तृत जानकारी प्रदान की। उन्होंने अर्की में अग्निशमन केन्द्र
खोलने की मांग की।

राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष जैनव चन्देल, नगर पंचायत अर्की के उपाध्यक्ष कुलदीप
सूद, राज्य युवा कल्याण बोर्ड के सदस्य तथा प्रदेश कांग्रेस समिति के महासचिव
संजय अवस्थी, जि़ला परिषद् सदस्य निर्मला देवी, खण्ड कांग्रेस समिति अर्की के
अध्यक्ष हरिराम कौण्डल, युवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष संजय ठाकुर, राज्य परिवहन
प्राधिकरण के सदस्य सतीश कश्यप, खण्ड विकास समिति कुनिहार की अध्यक्ष शकुन्तला
देवी, उपमण्डलाधिकारी अर्की एलआर वर्मा, तहसीलदार अर्की गिरिश सकलानी, महिला
कांग्रेस की महासचिव प्रभा वर्मा, जि़ला महिला कांग्रेस की महासचिव उमा गर्ग,
विभिन्न विभागों के अधिकारी अन्य गणमान्य व्यक्ति तथा बड़ी संख्या में स्थानीय
लोग इस अवसर पर उपस्थित थे।

 

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *